ड्रोन से होगा सामान डिलिवरी, जाने सबसे पहले किन शहरों में शुरु होगी सर्विस


नई दिल्ली. भारत के अग्रणी ईवी-ए-ए-सर्विस शेयर्ड इलेक्ट्रिक मोबिलिटी प्लेटफॉर्म Zypp Electric ने अंतिम-मील डिलीवरी सेवाओं के लिए TSAW ड्रोन के साथ करार किया है.

TSAW ड्रोन एक स्टार्ट-अप है जो लॉजिस्टिक्स में ड्रोन पेश करने पर काम करता है TSAW ड्रोन सभी प्रकार के भार को वितरित करने के लिए ड्रोन के लिए AI- सहायता प्राप्त स्मार्ट फ्लीट स्वास्थ्य प्रबंधन सहित एंड-टू-एंड इंटेलिजेंट टेक्नोलॉजी स्टैक बनाता है
ड्रोन से डिलवरी

200 ड्रोन की योजना

देश के चार शहरों में जल्द ही ड्रोन (drone) के जरिए सामान की डिलीवरी शुरू होने वाली है. last-mile delivery सर्विस चलाने वाली कंपनी Zypp Electric ने बताया कि वह अब ड्रोन लॉजिस्टिक्स सेगमेंट में प्रवेश कर रही है, कंपनी ने पहले चरण में चार शहरों में 200 ड्रोन तैनात करने की योजना बनाई है

Related Post

ग्राहको को दिए गए OTP से ही खुलेगा

इस सर्विस को सबसे पहले दिल्ली-एनसीआर, बेंगलुरु, हैदराबाद, मुंबई और पुणे में शुरू किया जाएगा, यहां last-mile delivery सर्विस पहले से मौजूद है कंपनी के अनुसार, तैनात किए गए सभी ड्रोन स्मार्ट लॉकर से लैस होंगे, जो केवल ग्राहक को दिए गए ओटीपी के जरिए ही खोले जा सकते हैं. इससे डिलीवरी किए जाने वाले सामान की सुरक्षा सुनिश्चित होगी.

समय की होगी बचत
Zypp Electric के कोफाउंडर और CEO आकाश गुप्ता ने कहा हम भारत के अग्रणी ड्रोन आरएंडडी और मैन्युफैक्चरिंग स्टार्टअप टीएसएडब्ल्यू ड्रोन के साथ अपनी साझेदारी की घोषणा करते हुए बेहद खुश हैं। उन्होंने बताया कि वह डिलीवरी प्रोसेस को आसान और स्मार्ट बनाने के लिए काम कर रहे हैं, कहा इन ड्रोन्स के जरिए पहाड़ी और लंबी दूरी वाले इलाकों में कम समय में पहुंचने के लिए बहुत मदद मिलेगी इससे जरूरी सामान दवाईयां और खाना जल्द पहुंचाएगा. यह कम से कम 10 गुना समय बचाएगा.

AI से होगा लैस

TSAW ड्रोन एक स्टार्ट-अप है, जो लॉजिस्टिक्स में ड्रोन बनाने का काम करता है, इसने एक एंड-टू-एंड इंटेलिजेंट टेक्नोलॉजी स्टैक भी बनाया है, जिसमें स्मार्ट ग्राउंड कंट्रोल स्टेशन (GCS), मानव रहित हवाई यातायात प्रबंधन (UTM) और AI- असिस्टेड स्मार्ट फ्लीट शामिल हैं

This post was last modified on January 11, 2022 6:10 am

Rusty:

This website uses cookies.